Home » Latest » नवीनतम: अमेरिका सबसे ज्यादा कोविड-19 संक्रमित मामलों वाला देश बना : जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय
Donald Trump

नवीनतम: अमेरिका सबसे ज्यादा कोविड-19 संक्रमित मामलों वाला देश बना : जॉन्स हॉपकिंस विश्वविद्यालय

पांच घंटे से भी कम समय में राष्ट्रव्यापी टैली 10,000 से अधिक मामलों में बढ़ी।

नई दिल्ली, 27 मार्च 2020. कल यानी 26 मार्च गुरुवार को अमेरिकी पूर्वी समय (2200 GMT) सायं 6 बजे तक के डाटा के अनुसार अमेरिका में  82,404 COVID-19 मामलों की पुष्टि के साथ अमेरिका सबसे ज्यादा कोविड-19 संक्रमित मामलों वाला देश बन गया है।

सिन्हुआ न्यूज एजेन्सी के रिपोर्टर चांग युआन के लेखThe latest: U.S. becomes country with most COVID-19 cases: Johns Hopkins University” के मुताबिक जॉन्स होप्स विश्वविद्यालय में सेंटर फॉर सिस्टम साइंस एंड इंजीनियरिंग (CSSE)-Center for Systems Science and Engineering (CSSE) at Johns Hopkins University के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका ने दुनिया में सबसे ज्यादा COVID-19 मामलों के साथ चीन को पीछे छोड़ दिया है। पांच घंटे से भी कम समय में राष्ट्रव्यापी टैली 10,000 से अधिक मामलों में बढ़ी।  37,802 मामलों के साथ न्यूयॉर्क राज्य देश के प्रकोप का केंद्र बन गया है। न्यू जर्सी और कैलिफोर्निया ने केंद्र के अनुसार क्रमशः 6,876 और 3,802 मामले दर्ज किए हैं।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! 10 वर्ष से सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 
 भारत से बाहर के साथी पे पल के माध्यम से मदद कर सकते हैं। (Friends from outside India can help through PayPal.) https://www.paypal.me/AmalenduUpadhyaya

रिपोर्ट के मुताबिक संयुक्त राज्य अमेरिका में कुल COVID-19 से जुड़ी मौतें 1,178 तक पहुंचीं, जबकि इनमें से 281 न्यूयॉर्क शहर में और 100 वाशिंगटन राज्य के किंग्स काउंटी में हुईं।

हस्तक्षेप के संचालन में मदद करें!! सत्ता को दर्पण दिखाने वाली पत्रकारिता, जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, के संचालन में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.
 

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Akhilendra Pratap Singh

भारत-चीन टकराव : मौजूदा सत्ता प्रतिष्ठान की इसके हल में कोई दिलचस्पी नहीं है

India-China Conflict: The current power establishment is not interested in its solution 7 जुलाई 2020 …