Home » समाचार » देश » पूरे प्रदेश की मानव श्रृंखला में माकपा ने की भागीदारी
Human chain

पूरे प्रदेश की मानव श्रृंखला में माकपा ने की भागीदारी

The Preamble to the Constitution was also read

रायपुर, 30 जनवरी 2020. वामपंथी पार्टियों और उनके जनसंगठनों सहित विभिन्न सामाजिक-राजनैतिक संगठनों के आह्वान पर पूरे प्रदेश में बनी मानव श्रृंखला (Human chain) में मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के कार्यकर्तओं ने बड़े पैमाने पर भागीदारी की और संविधान और धर्मनिरपेक्षता की रक्षा करने की शपथ ली।

इन कार्यक्रमों में संविधान की प्रस्तावना का वाचन भी किया गया और महात्मा गांधी की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि भी अर्पित की गई।

राजधानी रायपुर में माकपा राज्य सचिव संजय पराते घड़ी चौक पर इस श्रृंखला की अंतिम कड़ी बने। यहां हुई एक सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि धर्म के आधार पर नागरिकता देने का जो कानून मोदी सरकार ने बनाया है, वह संविधान विरोधी है और इसलिए देश की धर्मनिरपेक्ष जनता इसे स्वीकार करने के लिए तैयार नहीं है। माकपा नेता ने इसे धर्म के आधार पर देश को बांटने की घृणित साजिश करार देते हुए कहा कि यह देश गोडसे-सावरकर की राजनीति को सफल नहीं होने देगा। उन्होंने एनपीआर के प्रश्नों का जवाब न देने की भी अपील की, ताकि इसके बाद एनआरसी की प्रक्रिया को विफल किया जा सके।उनके साथ राजेश अवस्थी, अजय कन्नौजे, पूर्णचन्द्र रथ सहित अनेक कार्यकर्ता शामिल थे।

पार्टी के राज्य सचिवमंडल सदस्य एम के नंदी ने सीटू कार्यकर्ताओं का नेतृत्व किया।

कोरबा में महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद मानव श्रृंखला बनाई गई, जिसका नेतृत्व माकपा जिला सचिव  प्रशांत झा के साथ एस एन बेनर्जी, वी एम मनोहर, जनक दास कुलदीप, माकपा पार्षद सुरती कुलदीप और राजकुमारी कंवर,  जनवादी महिला समिति की धनबाई कुलदीप, जनवादी नौजवान सभा के अभिजीत गुप्ता, मनोज विश्वकर्मा, दिलहरण बिंझवार, छत्तीसगढ़ किसान सभा के जवाहर सिंह कंवर आदि ने किया। यहां आयोजित सभा को संबोधित करते हुए प्रशांत झा ने कहा कि सीएए-एनपीआर-एनआरसी से भूमिहीन आदिवासी, खेतिहर मजदूर, अचल संपत्ति से वंचित दलित-पिछड़ा वर्ग व मुस्लिम समुदाय सभी परेशान होंगे। इन सभी वर्गों के लोग अपने देश मे ही अपने वजूद को तलाशते घूमेंगे, यह किसी भी सरकार के लिए शर्मनाक स्थिति है। इसका निश्चित तौर पर देश की आर्थिक, राजनैतिक, सामाजिक, शैक्षणिक संस्कृति, धार्मिक क्षेत्रों पर बहुत विपरीत प्रभाव पड़ेगा और भाईचारे के साथ देश की एकता-अखंडता भी कमजोर होगी।

भिलाई में माकपा और सीटू के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने मानव श्रृंखला बनाई, जिसका नेतृत्व डीवीएस रेड्डी, पी वेंकट आदि ने किया। इसी प्रकार बिलासपुर में माकपा जिला सचिव रवि बेनर्जी, नंद कश्यप आदि ने मानव श्रृंखला में माकपा कार्यकर्ताओं का नेतृत्व किया।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

economic news in hindi, Economic news in Hindi, Important financial and economic news in Hindi, बिजनेस समाचार, शेयर मार्केट की ताज़ा खबरें, Business news in Hindi, Biz News in Hindi, Economy News in Hindi, अर्थव्यवस्था समाचार, अर्थव्‍यवस्‍था न्यूज़, Economy News in Hindi, Business News, Latest Business Hindi Samachar, बिजनेस न्यूज़

भविष्य की अर्थव्यवस्था की जरूरत है कृषि प्रौद्योगिकी स्टार्टअप

The economy of the future needs agricultural technology startups भारत की अर्थव्यवस्था के भविष्य के …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.