कोरोनावायरस को लेकर कैबिनेट सचिव ने की समीक्षा बैठक, चीन की यात्रा न करने का परामर्श

नई दिल्ली, 3 फरवरी 2020. कोरोनावायरस से निपटने की तैयारियों का जायजा (Review of preparations to deal with the corona virus) लेने के लिए सोमवार को एक उच्चस्तरीय समीक्षा बैठक हुई।

कैबिनेट सचिव की अध्यक्षता में हुई इस बैठक में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय, नागरिक उड्डयन मंत्रालय, स्वास्थ्य अनुसंधान विभाग के सचिवों के साथ-साथ आईटीबीपी, एएफएमएस और एनडीएमए के प्रतिनिधि भी शामिल हुए।

The cabinet secretary has held six review meetings so far regarding preparations to deal with the corona virus.

कैबिनेट सचिव इस बाबत अब तक छह समीक्षा बैठकें कर चुके हैं।

स्वास्थ्य मंत्रालय के विशेष सचिव संजीव कुमार ने बैठक की जानकारी देते हुए कहा,

“अब तक 445 उड़ानों के 58,658 यात्रियों की स्क्रीनिंग की गई है। रोग के लक्षण वाले कुल 142 यात्रियों को अस्पतालों में आइसोलेशन (अलग) वार्ड में रखा गया है। 130 नमूनों की जांच की गई थी, जिनमें से 128 नमूनों में रोग के लक्षण नहीं पाए गए हैं।”

उन्होंने कहा,

“केरल में एक और व्यक्ति के कोरोनावायरस से संक्रमित होने का मामला सामने आया है। संक्रमण से ग्रसित पाए गए इन सभी रोगियों को कड़ी चिकित्सीय निगरानी में रखा गया है। बहरहाल, उनकी हालत स्थिर है।”

इस दौरान भारत सरकार की ओर से एक नया यात्रा परामर्श जारी किया गया, जिसके तहत लोगों को चीन की यात्रा न करने की हिदायत दी गई है।

परामर्श में बताया गया है कि चीन की यात्रा करने और वहां से वापस लौटने पर यात्रियों को आइसोलेशन (अलग) वार्ड में रखा जा सकता है। 15 जनवरी, 2020 के बाद से अब तक जिसने भी चीन की यात्रा की है और जो भी चीन की यात्रा पर जाएगा, उनकी वापस स्वदेश लौटने पर जांच होगी और आइसोलेशन (अलग) वार्ड में उन्हें रहना होगा।

वुहान से 330 यात्रियों का दूसरा जत्था भारत पहुंच चुका है, जिसमें मालदीव के सात यात्री भी शामिल हैं। इनमें से सात मालदीवी नागरिकों सहित 300 यात्रियों को आईटीबीपी चावला कैम्प में तथा 30 यात्रियों को मानेसर में रखा गया है। इन सभी लोगों की स्वास्थ्य निगरानी की जा रही है।

Third patient of corona virus detected in Kerala

स्वास्थ्य मंत्रालय के विशेष सचिव संजीव कुमार ने कहा,

“केरल में कोरोनावायरस के तीसरे मरीज का पता लगा है। इस मरीज ने चीन के वुहान की यात्रा की थी। मरीज में कोरोनावायरस के लक्षण पाए गए हैं और अस्पताल में उसे अलग वार्ड में रखा गया है। मरीज की हालत स्थिर है और उसे कड़ी निगरानी में रखा गया है।”

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations