Home » समाचार » दुनिया » एंटीबायोटिक्स से शुरुआती डिमेंशिया का इलाज संभव : शोध
Health news

एंटीबायोटिक्स से शुरुआती डिमेंशिया का इलाज संभव : शोध

Treatment of early dementia with antibiotics possible: research

नई दिल्ली, 12 जनवरी 2020. एं एंटीबायोटिक की एक क्लास एमिनोग्लीकोसाइड्स(A class of antibiotics ‘aminoglycosides’) के माध्यम से शुरुआती डिमेंशिया – Early dementia (पागलपन) का अच्छा उपचार हो सकता है।

शोधकर्ता ने एक शोध में इस बात का पता लगाया है।

Frontotemporal dementia is the most common type of early dementia.

फ्रंटोटेंपोरल डिमेंशिया, शुरुआती डिमेंशिया का सबसे आम प्रकार है, जो आमतौर पर 40 और 65 की उम्र के बीच शुरू होता है। यह मस्तिष्क के फ्रंटोल और टेंपोरल लोब को प्रभावित करता है, जिससे व्यवहार में बदलाव, बोलने और लिखने में कठिनाई और स्मृति में गिरावट होती है।

ह्यूमन मॉलिक्यूलर जेनेटिक्स में छपे एक शोध के अनुसार, फ्रंटोटेम्पोरल डिमेंशिया के रोगियों के एक सबग्रुप में एक विशिष्ट जेनेटिक म्यूटेशन होता है। यह मस्तिष्क की कोशिकाओं को प्रोग्रानुलिन नामक प्रोटीन (progranulin protein) बनाने से रोकता है।

हालांकि, प्रोग्रानुलिन को व्यापक रूप से नहीं समझा जा सका है, लेकिन इसकी अनुपस्थिति सीधे तौर पर बीमारी से जुड़ी हुई है।

अमेरिका स्थित केंटकी विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने पाया कि इस म्यूटेशन के साथ न्यूरोनल कोशिकाओं में अमीनोग्लाइकोसाइड एंटीबायोटिक्स के जुड़ने के बाद कोशिकाओं ने म्यूटेशन को छोड़ दिया और फुल लेंथ के प्रोग्रानुलिन प्रोटीन बनाना शुरू कर दिया।

एमिनोग्लाइकोसाइड क्या है What is aminoglycoside

The aminoglycoside class of antibiotics consists of many different agents. In the United States, gentamicin, tobramycin, amikacin, plazomicin, streptomycin, neomycin, and paromomycin are approved by the US Food and Drug Administration (FDA) and are available for clinical use.

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

akhilesh yadav farsa

पूंजीवाद में बदल गया है अखिलेश यादव का समाजवाद

Akhilesh Yadav’s socialism has turned into capitalism नई दिल्ली, 27 मई 2022. भारतीय सोशलिस्ट मंच …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.