दशहरे पर होगा लॉन्च JIO का TRUE 5G बीटा ट्रायल

दशहरे पर होगा लॉन्च JIO का TRUE 5G बीटा ट्रायल

दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और वाराणसी से शुरू होंगी बीटा ट्रायल सर्विस

JIO TRUE 5G ‘वेलकम-ऑफर’ सिर्फ इनविटेशन पर

दिल्ली, मुंबई, कोलकत्ता और वाराणसी में चुनिंदा जियो यूजर्स को ही मिलेंगे इनविटेशन

ऑफर में यूजर्स को 1Gbps तक की स्पीड और अनलिमिटेड 5G डेटा मिलेगा

नई दिल्ली, 4 अक्टूबर 2022: जियो यूजर्स के लिए खुशखबरी, रिलायंस जियो की ट्रू-5जी सर्विस का बीटा ट्रायल (Beta Trial of Reliance Jio’s True-5G Service) दशहरे से शुरू हो रहा है। यह सर्विस देश के चार शहरों दिल्ली, मुंबई, कोलकत्ता और वाराणसी में शुरू की जाएंगी। अभी यह सर्विस ऑन इनविटेशन है, यानी मौजूदा जियो यूजर्स में से कुछ चुनिंदा यूजर्स को इस सर्विस का इस्तेमाल करने के लिए इनवाइट भेजा जाएगा।

यूजर्स को इसके साथ ही वेलकम-ऑफर भी मिलेगा, जिसके तहत यूजर्स को 1GBPS तक की स्पीड और अनलिमिटेड 5जी डेटा मिलेगा। इनवाइटेड यूजर्स इन जियो ट्रू 5जी सर्विस का एक्सपीरियंस करेंगे और उनके अनुभवों के आधार पर ही कंपनी विस्तृत 5जी सर्विस लॉन्च करेगी।

“वी केयर” यानी हमें आपका ख्याल है, Jio का True-5G इसी मूल मंत्र पर बना है। शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, कृषि, कौशल विकास, छोटे, मध्यम और बड़े उद्यमों, IoT, स्मार्ट होम और गेमिंग जैसे क्षेत्रों को यह पूरी तरह बदल कर रख देगा और 140 करोड़ भारतीयों पर इसका सीधा असर पड़ेगा।

जियो ट्रू 5जी वेलकम ऑफर

Jio True 5G वेलकम ऑफर Jio यूजर्स के लिए दिल्ली, मुंबई, कोलकाता और वाराणसी में आमंत्रण द्वारा लॉन्च किया जा रहा है।

इन ग्राहकों को 1 Gbps+ तक की स्पीड के साथ अनलिमिटेड 5G डेटा मिलेगा।

एक विज्ञप्ति के अनुसार जैसे-जैसे शहर तैयार होते जाएंगे, अन्य शहरों के लिए बीटा परीक्षण सेवा को खोलने की घोषणा की जाएगी।

उपयोगकर्ता इस बीटा परीक्षण का लाभ तब तक उठा पाएंगे जब तक कि शहर का नेटवर्क कवरेज पर्याप्त रूप से मजबूत नहीं हो जाता।

क्या Jio True 5G सेवा पाने के लिए सिम बदलना होगा?

आमंत्रित ‘Jio वेलकम ऑफर’ यूजर्स को अपना मौजूदा Jio सिम नही बदलना होगा। बस उसका मोबाइल 5g होना चाहिए। Jio True 5G सेवा ऑटोमैटिक अपग्रेड हो जाएगी।

विज्ञप्ति के अनुसार Jio सभी हैंडसेट ब्रांड्स के साथ भी काम कर रहा है ताकि ग्राहकों के पास चुनने के लिए 5G डिवाइस की व्यापक रेंज हो।

रिलायंस जियो इन्फोकॉम के चेयरमैन आकाश अंबानी ने इस मौके पर कहा, “हमारे प्रधान मंत्री के आह्वान पर ही जियो ने भारत जैसे बड़े आकार के देश के लिए सबसे तेज़ 5G रोल-आउट की योजना तैयार की है। Jio 5G एक ट्रू 5G होगा, और हमारा मानना ​​है कि भारत TRUE-5G से कम का हकदार नहीं है। Jio 5G दुनिया का सबसे एडवांस 5G नेटवर्क होगा, जिसे भारतीयों ने, भारतीयों के लिए बनाया है।“

आकाश अंबानी ने कहा कि “5G एक ऐसी सर्विस नही हो सकता जो कुछ विशेषाधिकार प्राप्त लोगों के लिए या सिर्फ बड़े शहरों तक उपलब्ध हो। यह पूरे भारत में हर नागरिक, हर घर और हर व्यवसाय के लिए उपलब्ध होना चाहिए। तभी हम अपनी पूरी अर्थव्यवस्था में उत्पादकता, कमाई और जीवन स्तर में मूलभूत बदलाव ला सकते हैं।“

JIO TRUE 5G की 3 बड़ी विशेषताएं :

स्टैंड-अलोन 5G

यह स्टैंड-अलोन नेटवर्क है यानी इस एडवांस 5जी नेटवर्क का 4जी नेटवर्क से कोई लेना देना नही है। जबकि अन्य ऑपरेटर 4जी-बेस्ड नेटवर्क लॉन्च करने की कोशिश कर रहे हैं। इसका सीधा फायदा जियो के True 5G को मिलेगा। इसमें लो लेटेंसी, बड़े पैमाने पर मशीन-टू-मशीन कम्युनिकेशन, 5G वॉयस, एज कंप्यूटिंग और नेटवर्क स्लाइसिंग जैसे शानदार फीचर्स हैं।

स्पेक्ट्रम का सबसे बड़ा और बेहतरीन मिश्रण

700 मेगाहर्ट्ज, 3500 मेगाहर्ट्ज और 26 गीगाहर्ट्ज, 5जी स्पेक्ट्रम बैंड का सबसे बड़ा और सबसे उपयुक्त मिश्रण, जो जियो ट्रू 5जी को अन्य ऑपरेटरों के मुकाबले बढ़त दिलाता है। दूसरा और सबसे महत्वपूर्ण 700 मेगाहर्ट्ज लो-बैंड स्पेक्ट्रम रखने वाला जियो एकमात्र ऑपरेटर है। इससे अच्छी इनडोर कवरेज मिलती है। यूरोप, अमेरिका और यूके में इस बैंड को 5जी के लिए प्रीमियम बैंड माना जाता है।

क्या है कैरियर एग्रीगेशन? 5जी तकनीक में कैरियर एग्रीगेशन की भूमिका क्या है?

कैरियर एग्रीगेशन नाम की एडवांस टेक्नोलॉजी 5जी की अलग अलग फ्रीक्वेंसी का एक मजबूत “डेटा हाईवे” बनाती है। जो यूजर्स के लिए कवरेज, क्षमता, गुणवत्ता और किफायत का एक शानदार पैकेज है।

TRUE 5G beta trial of Jio will be launched on Dussehra

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner