Home » Latest » उत्सवजीवी मोदीजी के आत्मनिर्भर भारत में केंद्रीय मंत्री के भाई को अस्पताल में बेड नहीं ? बाद में डिलीट किए दो ट्वीट
Novel Coronavirus SARS-CoV-2 Colorized scanning electron micrograph of a cell showing morphological signs of apoptosis, infected with SARS-COV-2 virus particles (green), isolated from a patient sample. Image captured at the NIAID Integrated Research Facility (IRF) in Fort Detrick, Maryland.

उत्सवजीवी मोदीजी के आत्मनिर्भर भारत में केंद्रीय मंत्री के भाई को अस्पताल में बेड नहीं ? बाद में डिलीट किए दो ट्वीट

Union minister’s brother does not have beds in the hospital
Delete two tweets later

नई दिल्ली, 18 अप्रैल 2021. उत्सवजीवी मोदी जी के आत्मनिर्भर भारत में आम आदमी तो छेड़िए केंद्रीय मंत्री के भाई को अस्पताल में बेड नहीं मिल रहा?

दरअसल केंद्रीय मंत्री जनरल (सेनि.) वीके सिंह ने आज दोपहर ट्वीट किया

जिलाधिकारी गाजियाबाद को टैग करते हुए ट्वीट किया – “Please check this out प्लीज़ हमारी हेल्प करे मेरे भाई को कोरोना ईलाज के लिए बेड की आवश्यकता है। अभी गाजियाबाद में बेड की व्यवस्था नहीं हो पा रही है।“

इस ट्वीट के साथ जन. सिंह ने मिनी मुख्यमंत्री समझे जाने वाले भाजपा प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी और केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के पुत्र व विधायक पंकज सिंह को भी टैग किया।

थोड़ी ही देर में मंत्री जी का ट्वीट वायरल हो गया। लगता है इसके बाद आलाकमान से फटकार पड़ होगी तब उन्होंने उक्त ट्वीट को डिलीट करते हुए सफाई में नया ट्वीट किया। बाद में उस ट्वीट को भी डिलीट करके तीसरे ट्वीट में सफाई दी। लेकिन तब तक वीके सिंह के दोनों डिलीटेड ट्वीट के स्क्रीनशॉट वायरल हो गए।

हालांकि बाद में कुछ लोगों ने सफाई दी कि श्री सिंह ने किसी अन्य व्यक्ति के ट्वीट को जिलाधिकारी को फॉरवर्ड किया था, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी और अफवाहों का बाजार गर्म हो चुका था

gen vk singh deleted tweet

https://twitter.com/Gen_VKSingh/status/1383674297017802753

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

gairsain

उत्तराखंड की राजधानी का प्रश्न : जन भावनाओं से खेलता राजनैतिक तंत्र

Question of the capital of Uttarakhand: Political system playing with public sentiments उत्तराखंड आंदोलन की …

Leave a Reply