Home » समाचार » देश » जेएनयू में एबीवीपी के कथित गुंडों का हमला, अमित शाह के इस्तीफे की उठी मांग
JNU Violance, जेएनयू में एबीवीपी, JNU Violance Live updates, demand for Amit Shah's resignation,

जेएनयू में एबीवीपी के कथित गुंडों का हमला, अमित शाह के इस्तीफे की उठी मांग

Violence in JNU, masked goons attack students, teachers

नई दिल्ली, 5 जनवरी 2019. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) परिसर (Jawaharlal Nehru University (JNU) Campus) में रविवार शाम अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के कथित हमले में जेएनयूएसयू की अध्यक्ष ऐशे घोष सहित कई अन्य विद्यार्थी बुरी तरह से घायल हो गए। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में घोष के शरीर से खून निकलता देखा जा सकता है। खबरों के अनुसार, लोहे की रोड से उसकी आंख पर हमला किया गया। प्राथमिक उपचार के लिए उसे पास के अस्पताल ले जाया गया है।

जेएनयूएसयू महासचिव सतीश चंद्र भी इस दौरान घायल हो गए और कथित तौर पर कुछ शिक्षकों पर भी हमला किया गया। सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के मुताबिक हमलावर बाहरी लोगों की भीड़, लाठियों डंडों के साथ कैंपस में दाखिल हुई थी। बदमाश बहुत सावधानी के साथ मुंह पर नकाब बांधे हुए थे।

वरिष्ठ पत्रकार और मोदी समर्थक समझे जाने वाले संजय बारू ने ट्विटर पर लिखा,

“मैं कैंपस में नहीं रहता। मेरी पत्नी वहां पढ़ाती है। उसके छात्र कैंपस में रहते हैं। वे भय से पुकार रहे हैं। यह एक संगठित हमला है जो मेरे जैसे पूर्व छात्रों के खिलाफ खड़ा होना चाहिए।”

राष्ट्रीय लोकदल नेता जयंत चौधरी ने ट्वीट किया

“जानलेवा भीड़ केंद्रीय विश्वविद्यालय में घुस जाती है और छात्रों और फैकल्टी पर घंटों हमला करती है! गृह मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए! #JNUViolence”

 

 


पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

united nations secretary general antónio guterres

वैश्विक टीकाकरण अभियान ही कोरोना महामारी को रोकने का उपाय : संयुक्त राष्ट्र प्रमुख

Global vaccination campaign is the only way to stop the epidemic: UN chief UN Secretary-General’s …

Leave a Reply