भाजपा और उसकी केंद्र सरकार के इशारे पर जेएनयू छात्रों पर हिंसक हमला निंदनीय : माले

भाजपा और उसकी केंद्र सरकार के इशारे पर जेएनयू छात्रों पर हिंसक हमला निंदनीय : माले

Violent attack on JNU students at the behest of BJP and its central government is condemnable: CPI (ML)

लखनऊ, 5 जनवरी। भाकपा (माले) की राज्य इकाई ने जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष समेत छात्रों व शिक्षकों पर रविवार रात किये गये हिंसक हमले की कड़ी निंदा की है। पार्टी ने कहा है कि हमलावरों को पुलिस और विवि प्रसाशन का परोक्ष संरक्षण प्राप्त था, तभी इतने बड़े पैमाने पर संगठित हमला हुआ जिसमें छात्रसंघ की अध्यक्ष का सर फटा और दर्जनों छात्र व शिक्षण बुरी तरह घायल हुए हैं।

पार्टी राज्य सचिव सुधाकर यादव ने कहा कि चूंकि हमलावर गुंडे एबीवीपी के नेतृत्व में आये थे और केंद्रीय गृह मंत्रालय से संचालित दिल्ली पुलिस हमले के समय मूकदर्शक बनी रही, लिहाजा इस मिलीभगत की निष्पक्ष जांच होनी चाहिए और हमलावरों को अविलंब गिरफ्तार किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि हमला भाजपा और उसकी केंद्र सरकार के इशारे पर हुआ है। जेएनयू में वैचारिक-राजनीतिक संघर्ष में नहीं टिकने के कारण संघ व भाजपा शारीरिक हमले करवा रही है। इसके लिए सबसे पहले देश के सर्वोत्कृष्ट विवि को चुना गया। यह फासीवाद का नंगा नाच है। उन्होंने वाम, लोकतांत्रिक शक्तियों व शांतिप्रिय नागरिकों से इस फासीवादी हमले के खिलाफ एकजुट होकर आगे आने की अपील की।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.