Home » समाचार » देश » बुनकर वाहिनी को पास बुक बहाली मुद्दे पर मिला यूपी वर्कर्स फ्रंट व “आल इंडिया पीपुल फ्रंट” का समर्थन
National News

बुनकर वाहिनी को पास बुक बहाली मुद्दे पर मिला यूपी वर्कर्स फ्रंट व “आल इंडिया पीपुल फ्रंट” का समर्थन

Weaver Corps got support of UP Workers Front and “All India People Front” on pass book restoration issue

मऊनाथ भंजन, 31 अगस्त 2020. ”बुनकर बचाओ किसान बचाओ देश बचाओ”  अभियान के तहत उ0 प्र0 बुनकर वाहिनी की बैठक ग्राम गुलौरी ब्लॉक रतनपुरा में 30-08-2020 दिन रविवार को  सम्पन्न हुई जिसमें किसानों बुनकरों, आम नागरिकों के सवालों जैसे बिजली पासबूक बहाल किए जाने। बुनकरों व किसानों के बिजली के कर्ज माफ किए जाने, नरेगा व मनरेगा के बकाया भुगतान एवं ग्रामीण क्षेत्र में प्रधान मंत्री आवास योजना के तहत आवास मुहैया कराने संबंधित जनहित के मुद्दों पर चर्चा हुई।

सामाजिक दूरी का पालन करते हुए बैठक में मुख्य अतिथि एकबाल अहमद अंसारी ने संबोधित करते हुए लोगों से उत्तर प्रदेश बुनकर वाहिनी संगठन को शक्ति को बढ़ाने हेतु आह्वान किए।

आगे कहा कि “यूपी वर्कर्स फ्रंट” के प्रदेश अध्यक्ष दिनकर कपूर व “आल इंडिया पीपुल फ्रंट” के नेशनल लीडर अखिलेन्द्र प्रसाद सिंह ने बुनकरों के पासबुक कि बहाली हेतु संघर्ष मे सम्पूर्ण योगदान, व समर्थन हेतु आश्वस्त किया है।

यज्ञदेव भारती ने बैठक को संबोधित करते हुए उत्तर प्रदेश बुनकर वाहिनी की नीतियों को जन-जन तक पहुँचाने की अपील की।

जिला कमेटी सदस्य देव नारायण ने नरेगा व मानरेगा के बकाया मजदूरी दिलाने हेतु आवाज उठाई। ये भी कहा कि प्रधान मंत्री आवास योजना में अधिकांश गरीब पात्र लोगों को योजना से वंचित रखा गया है।।

बैठक में लक्ष्मी यादव, अशोक कुमार रजक, महेंद्र, सुनील राजभर, बृजेश राजभर, उमेश कुमार, विशाल प्रजापति, दिलराज कुमार, राहुल कुमार, पंकज कुमार, सुरेन्द्र, कुमार दूधनाथ मंत्री रानीपुर आदि बैठक में भाग लिए, बैठक की अध्यक्षता उमेश कुमार भर्ती व संचालन अल्ताफ अंसारी ने किया, या जानकारी मण्डल अध्यक्ष आदम अंसारी ने दी।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Industry backs science based warning label on food packaging

उद्योग जगत ने विज्ञान आधारित खाद्य पैकेजिंग पर चेतावनी लेबल को दिया समर्थन

Industry backs warning label on science based food packaging नई दिल्ली, 16 मई 2022. गाँधी …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.