Home » समाचार » दुनिया » डब्ल्यूएचओ ने चेताया, दुनिया में में कोविड-19 से संक्रमित होंगे कुल 10 लाख लोग, होंगी 50 हजार मौतें
Coronavirus CDC

डब्ल्यूएचओ ने चेताया, दुनिया में में कोविड-19 से संक्रमित होंगे कुल 10 लाख लोग, होंगी 50 हजार मौतें

WHO warned, Covid-19 in the world will be infected with a total of 1 million people, there will be 50 thousand deaths

नई दिल्ली, 2 अप्रैल 2020.  विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के प्रमुख टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने कहा है कि आने वाले कुछ दिनों में दुनिया कोविड-19 संक्रमण के चलते 10 लाख से अधिक मामले देखेगी और महामारी से मरने वालों की संख्या 50 हजार से पार होगी।

WHO Director-General’s remarks at the media briefing on COVID-19 – 1 April 2020

डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक टेड्रोस अदनोम घेब्रेयसस (Tedros Adhanom Ghebreyesus) ने की बुधवार को जेनेवा में दैनिक ब्रीफिंग में कहा,

“कोविड-19 महामारी अपनी शुरुआत के बाद से अब चौथे महीने में प्रवेश करेगी, ऐसे में मैं संक्रमण के तेजी से बढ़ते मामलों और इसके वैश्विक प्रसार के बारे में गहराई से चिंतित हूं।”

दुनिया भर में पिछले पांच हफ्तों में कोविड -19 संक्रमण के बढ़ते मामलों के मद्देनजर ट्रेडोस ने कहा कि पिछले सप्ताह में मरने वालों की तुलना में संख्या दोगुनी से अधिक हुई है।

डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों के अनुसार, महामारी के चलते बुधवार तक दुनियाभर के 200 देशों और क्षेत्रों में कुल 40,777 लोगों ने अपनी जान गंवाई। वहीं संक्रमित व्यक्तियों की कुल संख्या 8,27,419 रही।

चीन के बाहर अकेले बुधवार दोपहर तक संक्रमित मामलों की संख्या बढ़कर 7,44,781 हो गई, जबकि महामारी के चलते 37,456 मरीजों की मौत हो गई।

डब्ल्यूएचओ के अनुसार, 1,63,199 मामलों के साथ अमेरिका में 2,850 मौतें हुई, जबकि इटली में 1,05,792 संक्रमित मामलों के साथ कुल 12,430 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Demonstrations held in many places in Chhattisgarh against anti-agricultural laws

कृषि संकट से आंख चुराने वाला बजट — किसान सभा

छत्तीसगढ़ बजट 2021-22 : किसान सभा की प्रतिक्रिया Chhattisgarh Budget 2021-22: Response of Kisan Sabha …