भारत में श्रमिक संघर्षों पर केंद्रित पाँचवीं वेबिनार 19 को

India News in Hindi, इंडिया न्यूज़, Hindi News, हिंदी समाचार, India News in Hindi, Read Latest Hindi News, Breaking News, National Hindi News, हिंदी समाचार, National News In Hindi, Latest National Hindi News Today,todays state news in Hindi, international news in Hindi, all Hindi news, national news in Hindi live, Aaj Tak Hindi news, BBC Hindi, Hindi news paper, today's state news in Hindi, Bihar breaking news live, Rashtriya khabren,

महिला श्रमिक और उनके संघर्ष | Women workers and their struggle

इंदौर, 17 नवम्बर, 2020 : जोशी-अधिकारी इंस्टिट्यूट ऑफ सोशल स्टडीजJoshi-Adhikari Institute of Social Studies (जैस), दिल्ली द्वारा भारत में श्रमिक संघर्षों पर केंद्रित वेबिनार (Webinar focused on labor struggles in India) का आयोजन 19 नवंबर, 2020, गुरुवार को शाम 5 से 7:30 बजे किया जा रहा है।

यह वेबिनार, छः वेबिनार श्रृंखला की पाँचवीं वेबिनार है। इसका विषय है- महिला श्रमिक और उनके संघर्ष।

यह पाँचवीं वेबिनार इसलिए भी महत्त्वपूर्ण है क्योंकि देश की आधी आबादी कही जाने वाली महिलाएँ देश के श्रम में भी आधा योगदान दर्ज करती हैं। महिला श्रम के इस योगदान और उनके संघर्षों को समझने के लिए इस वेबिनार की अलहदा महत्ता है।

यह पांचवीं वेबिनार 19 नवम्वर 2020 को महिला श्रमिकों और उनके संघर्षों पर केंद्रित है। इस वेबिनार में आँगनवाड़ी व आशा कार्यकर्ता, गारमेंट इंडस्ट्री के महिला श्रमिकों, आधुनिक औद्योगिक क्षेत्रों में काम कर रहीं महिला श्रमिकों, चाय बागानों की महिला श्रमिकों के संघर्षों पर चर्चा की जाएगी।

वेबिनार में “हमारी अर्थव्यवस्था में महिला श्रमिकों का एक व्यापक अवलोकन” पर अपनी बात रखेंगी कॉमरेड वहीदा निजाम जो तमिलनाडु से हैं।

“आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के संघर्ष” के बारे में बताएँगी कॉमरेड सरोज (पंजाब) से हैं।

“आशा कार्यकर्ताओं के संघर्ष” के बारे में हरियाणा से कॉमरेड सुरेखा और “आधुनिक उद्योगों में महिला श्रमिकों के संघर्ष” पर हरियाणा से ही कॉमरेड अनीता यादव अपनी बात रखेंगी।

“चाय बागानों में महिला श्रमिकों के संघर्ष” पर जानकारी देंगी केरल की साथी कॉमरेड कविता और “गारमेंट क्षेत्र में महिला श्रमिकों के संघर्ष” पर प्रकाश डालेंगे बेंगलुरु से कॉमरेड सत्यानंद।

पहली वेबिनार श्रम नियमों की जानकारी, उनके अधिकार और हमलों तथा प्रतिक्रियाओं एवं संगठित क्षेत्र के श्रमिकों की स्थितियों पर केंद्रित थी। दूसरी वेबिनार “उद्योगों में श्रम का दमन- चुनौतियाँ” विषय पर हुई।

तीसरी वेबिनार “उर्जा के क्षेत्र में संकट और कर्मचारियों का संघर्ष” तथा चौथी वेबिनार “नवउदारवादी नीतियों के खिलाफ सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारी (बैंकिंग, बीमा और दूरसंचार क्षेत्र)” विषय पर केंद्रित थी।

पाँचवीं वेबिनार 19 नवंबर 2020 को है।

पूरी श्रृंखला में एक-दो वक्तव्यों को छोड़ सभी वक्तव्य हिंदी में होंगे। जो वक्तव्य अंग्रेजी में होंगे उनके संक्षिप्त अनुवाद भी प्रस्तुत किये जाएँगे।

पाठकों से अपील

“हस्तक्षेप” जन सुनवाई का मंच है जहां मेहनतकश अवाम की हर चीख दर्ज करनी है। जहां मानवाधिकार और नागरिक अधिकार के मुद्दे हैं तो प्रकृति, पर्यावरण, मौसम और जलवायु के मुद्दे भी हैं। ये यात्रा जारी रहे इसके लिए मदद करें। 9312873760 नंबर पर पेटीएम करें या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करके ऑनलाइन भुगतान करें

 

Leave a Reply