Home » Latest » यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल 100% लोगों को लगाई गई कोरोना वैक्सीन
COVID-19 news & analysis

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल 100% लोगों को लगाई गई कोरोना वैक्सीन

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी गाजियाबाद : टीकाकरण के लक्ष्य के अनुसार 100% लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई गई जिसमें कुल मिलाकर 305 लोगों को कोरोना का टीका लगाया गया

Yashoda Super Specialty Hospital Kaushambi Ghaziabad: Corona vaccine was given to 100% of people as per vaccination target, out of which 305 people were vaccinated with corona in total.

गाजियाबाद, 22 जनवरी 2021. यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी गाजियाबाद में द्वितीय चरण के कोविड टीकाकरण का आयोजन आज 22 जनवरी 2021 को प्रातः 9:00 बजे से लेकर शाम 5:00 बजे तक किया गया।

हॉस्पिटल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ अनुज अग्रवाल ने बताया कि आज के टीकाकरण अभियान में यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल कौशांबी के डॉक्टरों, नर्सों एवं हेल्थ केयर वर्कर्स को टीके लगाए गए।

एक विज्ञप्ति के अनुसार टीका लगवाने के लिए सुबह से ही डॉक्टरों एवं मेडिकल स्टाफ में भारी उत्साह दिखा। पहले चरण के टीकाकरण में सब कुछ ठीक-ठाक रहने और डॉक्टरों एवं अन्य मेडिकल स्टाफ से बातचीत करने के बाद लोगों में एक नई ऊर्जा और आत्मविश्वास पैदा हुआ और जिसका परिणाम यह रहा कि 1:30 बजे से पहले ही करीब 50 प्रतिशत टीकाकरण जोकि डेढ़ सौ की संख्या है वह पूरा किया जा चुका था।

हॉस्पिटल के वरिष्ठ हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ असित खन्ना, डॉक्टर धीरेंद्र सिंघानिया, वरिष्ठ कोविड-19 फेफड़ा एवं श्वास रोग विशेषज्ञ डॉक्टर के के पांडे, डॉक्टर अर्जुन खन्ना, वरिष्ठ सर्जन डॉक्टर जे एस लांबा, डॉ वी एस पांडे, डॉक्टर सुधीर त्यागी, वरिष्ठ फिजिशियन डॉक्टर ए पी सिंह, डॉक्टर जी जे सिंह, वरिष्ठ न्यूरो सर्जन डॉक्टर राजकुमार डॉक्टर प्रद्योत गोविल, वरिष्ठ रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर दीपक हंस, डॉक्टर ममता मोटला, आईसीयू के डॉक्टर सचिन माहेश्वरी, वरिष्ठ स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉक्टर दीपा, फिजियोथैरेपिस्ट डॉक्टर मुबारक हुसैन डॉक्टर अखिलेंद्र एवं डॉ आशीष जैन ने भी टीका लगवाया।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे।

हमारे बारे में उपाध्याय अमलेन्दु

Check Also

Science news

रहस्यमय ‘आइंस्टीनियम’ को समझने के लिए नया शोध

New research to understand the mysterious ‘Einsteinium’ आइंस्टीनियम क्या है? | What is Einsteinium IN …

Leave a Reply