जीहां ! 15 अगस्त 2020 को राष्ट्रध्वज तो कमलनाथ ही फहराएंगे ! जानिए कैसे…

Yes! On 15 August 2020, Kamal Nath will hoist the national flag! Know how …

नई दिल्ली, 21 मार्च 2020. मध्यप्रदेश में बीते कुछ दिनों से चला आ रहा सियासी गतिरोध भले ही शुक्रवार को कमलनाथ के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफे के बाद भले ही लगभग समाप्त हो गया हो, लेकिन प्रदेश कांग्रेस सियासी पैंतरेबाजी में अपनी हार मानने को कतई तैयार नहीं है। अब मध्य प्रदेश कांग्रेस के एक ट्वीट ने भाजपा की बेचैनी बड़ा दी है। उसके एक ट्वीट के राजनीतिक हल्कों में कई मायने निकाले जा रहे हैं।

MP Congress✔@INCM P ने ट्वीट किया,

“इस ट्वीट को सँभाल कर रखना-

15 अगस्त 2020 को कमलनाथ जी मप्र के मुख्यमंत्री के तौर पर ध्वजारोहण करेंगे और परेड की सलामी लेंगे।

ये बेहद अल्प विश्राम है।”

इस ट्वीट ने भाजपा खेमे में बेचैनी बढ़ा दी है।

राजनीतिक विश्लेषकों का मत है कि मप्र कांग्रेस का ये ट्वीट हवाबाजी नहीं है, बल्कि सत्यता है क्योंकि अब प्रदेश में 23 सीटों पर उपचुनाव होने हैं, जिनमें से 22 सीटें ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के प्रभाव क्षेत्र की हैं। इन सीटों पर अब कांग्रेस दमदारी के साथ लड़ेगी क्योंकि अब इन सीटों पर सिंधिया के महल के कर्मचारी (Staff of Scindia’s palace) कांग्रेस के प्रत्याशी नहीं होंगे। जबकि भाजपा के लिए ये उपचुनाव संकट वाले होंगे। पहले तो सिंधिया अगर अपने लोगों को भाजपा का टिकट दिलवाने में कामयाब हो भी जाते हैं तो भाजपा में जबर्दस्त विद्रोह होगा और उसका सीधा फायदा कांग्रेस को होगा, क्योंकि कोई भी भाजपा नेता, यहां तक कि सिंधिया की बुआ भी ज्योतिरादित्य का भाजपा में प्रभाव बढ़ता देखना नहीं चाहेंगी। भाजपा के पूर्व अध्यक्ष प्रभात झा की सिंधिया को लेकर नाराजगी खुलकर सामने आ ही चुकी है, क्योंकि सिंधिया ने राज्यसभा सीट के लिए उनके ही पैर पर पैर रखा है।

इस्तीफा देने से पहले कमलनाथ ने क्यों कहा- आज के बाद कल और कल के बाद परसों भी आएगा

ऐसे में लौटकर कमलनाथ को ही आना है। भाजपा में सीएम बनने को लेकर सिंधिया, शिवराज सिंह चौहान, नरेंद्र सिंह तोमर और नरोत्तम मिश्रा में जो खींचतान की खबरें सामने आ रही हैं, वह भी चुगली कर रही हैं कि 15 अगस्त 2020 को राष्ट्रध्वज तो कमलनाथ ही फहराएंगे ! यही कारण है कि कमलनाथ ने भी अपनी प्रेस कान्फ्रेंस में कहा था – आज के बाद कल और कल के बाद परसों भी आएगा

Topics – Kamal Nath will hoist the national flag! , Rashtradhwaja, Kamal Nath, Jyotiraditya Scindia, Kamal Nath’s news, Kamal Nath’s latest news, Jyotiraditya Scindia’s latest news, Bhopal news, Bhopal Samachar

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations