लखीमपुर में साड़ी खींचने की घटना में तमाशबीन रह कर योगी की पुलिस ने कानपुर देहात में किया वीरता का प्रदर्शन : माले

लखीमपुर में साड़ी खींचने की घटना में तमाशबीन रह कर योगी की पुलिस ने कानपुर देहात में किया वीरता का प्रदर्शन : माले

योगी सरकार में यूपी पुलिस भाजपाई गुंडों से प्रेरणा ग्रहण कर रही : माले

लखनऊ, 18 जुलाई। भाकपा (माले) ने महिला के ऊपर बैठे यूपी पुलिस के दरोगा के वायरल हुए वीडियो पर कहा है कि मुख्यमंत्री योगी के पुलिस राज में महिलाओं का बुरा हाल है।

पार्टी के राज्य सचिव सुधाकर यादव ने कहा कि भोगनीपुर थाना (कानपुर देहात) के पुखरायां चौकी क्षेत्र की उक्त घटना महिला सुरक्षा का हाल बयां करती है। जिस पुलिस के पास महिलाओं की सुरक्षा का जिम्मा है, उसका यह बर्ताव डराने वाला है।

कामरेड सुधाकर ने कहा कि लखीमपुर खीरी में ब्लाक प्रमुख के चुनाव में भाजपाई गुंडों ने महिला की साड़ी खींची, मगर कानपुर देहात में पुलिस का दरोगा सरेआम महिला की छाती पर बैठ गया। पहली घटना (खीरी) में पुलिस तमाशबीन बनी रही, मगर दूसरी घटना (कानपुर देहात) में खुद महिला से वीरता और अभद्रता के प्रदर्शन पर उतर आई। माले नेता ने कहा कि योगी सरकार में यूपी पुलिस भाजपाई गुंडों से प्रेरणा ग्रहण कर रही है

राज्य सचिव ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी ने ठांय-ठांय के साथ मनमानी करने की  पुलिस को खुली छूट दे रखी है। इसी का नतीजा है कि प्रदेश में पुलिस राज कायम हो गया है। लोकतंत्र और कानून का राज नाम की कोई चीज नहीं रह गई है और चहुं ओर दबंगई-गुंडई का बोलबाला है। ऐसे में पीएम मोदी द्वारा अपने वाराणसी दौरे में योगी सरकार की तारीफ के पुल बंधना हतप्रभ करने वाला है। जबकि कानून व्यवस्था को पाताल लोक में भेजने वाली सरकार को भी वहीं भेज देने की जरुरत है।

हमें गूगल न्यूज पर फॉलो करें. ट्विटर पर फॉलो करें. वाट्सएप पर संदेश पाएं. हस्तक्षेप की आर्थिक मदद करें

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner