गरीब विरोधी मानसिकता और राजनीतिक कायरता का परिचय दे रहे योगी, लल्लू को गैरकानूनी ढंग से जेल भेजने के खिलाफ कांग्रेस चलाएगी महाअभियान

फर्जी मुकदमें और जेल की सलाखें कांग्रेस के सेवाकार्य को रोक नहीं पाएगीं

हम गांव-गांव हर गरीब की झोपड़ी तक जाकर लोगों की सेवा करेंगे : आराधना मिश्रा मोना

हमें न्यायपालिका पर भरोसा, मजदूरों, गरीबों और वंचितों के साथी अजय कुमार लल्लू को मिलेगा इंसाफ : नसीमुद्दीन सिद्दीकी

लखनऊ, 2 जून 2020। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू की जमानत याचिका सेशन कोर्ट से खारिज कर दी गयी है। हमें न्यायपालिका में पूरा विश्वास है और हमारे प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू को इंसाफ मिलेगा। उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू को गैरकानूनी ढंग से जेल भेजने के खिलाफ पार्टी महाअभियान चलाएगी। हम गांव-गांव हर गरीब की झोपड़ी तक अपनी बात ले जाएंगे और लोगों की सेवा करेंगे।

कांग्रेस विधायक दल नेता मती आराधना मिश्रा मोना ने कहा कि लाखों जरूरतमंदों तक भोजन और राशन पहुंचने वाले, हज़ारों मजदूरों को उनके घरों तक लाने वाले, गरीबों-मजदूरों के मददगार अजय कुमार लल्लू का आखिर अपराध क्या है? यही कि उन्होंने जरूरतमंदों की मदद की? मजदूरों को राहत मिले इसलिए बसों का बंदोबस्त किया। सेवा कार्य से बौखलाई योगी सरकार ने महासचिव प्रियंका गांधी के निजी सचिव संदीप सिंह और कांग्रेस के 90 से अधिक नेताओं के ऊपर फ़र्ज़ी मुकदमे दर्ज कराए हैं। फर्जी मुकदमे और जेल की सलाखें सेवाकार्य को रोक नहीं पाएगीं। हमारी पार्टी देश निर्माता श्रमिकों की सेवा के लिए प्रतिबद्ध है।

Yogis showing anti-poor mentality and political cowardice

उन्होंने कहा कि हम एक जिम्मेदार विपक्ष की भूमिका निभा रहे हैं लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार राजनीतिक द्वेष और गरीब विरोधी मानसिकता का परिचय दे रही है। कांग्रेस पार्टी  अजय कुमार लल्लू को गैरकानूनी ढंग से जेल भेजने के खिलाफ महाअभियान चलाएगी। हम गांव-गांव हर गरीब की झोपड़ी तक अपनी बात ले जाएंगे और लोगों की सेवा करेंगे।

कांग्रेस वरिष्ठ नेता सदस्य विधान परिषद  नसीमुद्दीन सिद्दीकी ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए कहा कि अबतक पूरे प्रदेश में 90 लाख से अधिक लोगों तक कांग्रेस पार्टी ने राशन और भोजन पहुंचाया है। 10 लाख प्रवासी श्रमिकों की मदद की। 22 जिलों में साझी रसोईघर चलाया गया। 40 हाइवे स्टॉल्स लगाकर नाश्ता, खाना वितरित किया गया। यह सब प्रदेश अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू के नेतृत्व में हुआ और आज हम पुनः सेवा का संकल्प ले रहे हैं कि भाजपा सरकार के दमन से झुकेंगे नहीं, सेवा कार्य और जी जान लगाकर करेंगे।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की पंजाब सरकार ने 34 करोड़ रुपया श्रमिकों को टिकट के लिए दिया। 54 करोड़ महाराष्ट्र सरकार ने श्रमिकों को टिकट के लिए दिया। 5 करोड़ रुपया राजस्थान सरकार ने अकेले यूपी के मजदूरों के टिकट के लिए खर्च किया। कल ही महासचिव मती प्रियंका गांधी 16 सौ श्रमिकों को ट्रेन से गोरखपुर मुख्यमंत्री के क्षेत्र में भेजा है।

उन्होंने कहा कि हमें देश की न्यायपालिका पर भरोसा है। मजदूरों, गरीबों और जरूरतमंदों के साथी हमारे अध्यक्ष  अजय कुमार लल्लू जी को जरूर इंसाफ मिलेगा।

पूर्व मंत्री नसीमुद्दीन सिद्दीकी कहा कि भाजपा के नेता और कार्यकर्ता रोजाना सोशल डिस्टेंसिंग और महामारी में लागू नियमों की धज्जियां उड़ाते हैं। अपने सभी राजनीतिक कार्यक्रम करते हैं, लेकिन एक भी भाजपा का नेता गरीब की सेवा करते नहीं दिखा। प्रदेश के मुख्यमंत्री अपनी पीठ थपथपाने में व्यस्त हैं। उप मुख्यमंत्री पतंगबाजी में लगे हैं।

प्रदेश उपाध्यक्ष  वीरेंद्र चौधरी ने कहा कि गरीब-मजदूर विरोधी योगी आदित्यनाथ की सरकार नहीं चाहती कि श्रमिक बहनों-भाईयों को राहत मिले। लेकिन योगी आदित्यनाथ जी कान खोलकर सुन लीजिए, हमारा मदद का हाथ कमजोर नहीं होगा।

वीरेंद्र चौधरी ने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी अपने आपराधिक कृत्य के चलते जेल भेजे गए थे, संसद भवन में फफक फफककर रोए थे। आज फिर वे कायरों की तरह द्वेषपूर्ण राजनीति कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि हम सेवाकार्य को और तेज कर रहे हैं। देश निर्माताओं की जी-जान लगाकर सेवा करेंगे, भाजपा सरकार चाहे जितना दमन करे मगर हम सेवा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
उपाध्याय अमलेन्दु:
Related Post
Leave a Comment
Recent Posts
Donate to Hastakshep
नोट - हम किसी भी राजनीतिक दल या समूह से संबद्ध नहीं हैं। हमारा कोई कॉरपोरेट, राजनीतिक दल, एनजीओ, कोई जिंदाबाद-मुर्दाबाद ट्रस्ट या बौद्धिक समूह स्पाँसर नहीं है, लेकिन हम निष्पक्ष या तटस्थ नहीं हैं। हम जनता के पैरोकार हैं। हम अपनी विचारधारा पर किसी भी प्रकार के दबाव को स्वीकार नहीं करते हैं। इसलिए, यदि आप हमारी आर्थिक मदद करते हैं, तो हम उसके बदले में किसी भी तरह के दबाव को स्वीकार नहीं करेंगे। OR
Donations