हस्तक्षेप > आपकी नज़र
क्या हमें आज आजादी का उत्सव मनाना चाहिए या गंवाए गए मौकों पर दुख जताना चाहिए
क्या हमें आज आजादी का उत्सव मनाना चाहिए या गंवाए गए मौकों पर दुख जताना चाहिए?

दलित सीवर साफ करते हुए मर रहे हैं, महिलाओं पर हमले हो रहे हैं और मुसलमानों को पीट-पीटकर मार दिया जा रहा है. तो क्या हमें आज आजादी का उत्सव मनाना ...

अतिथि लेखक
2017-08-16 19:13:10
और चौथी बार जीवित हो गया साजिद बड़ा
...और चौथी बार जीवित हो गया साजिद बड़ा !

बटला हाउस फर्जी इनकाउंटर के बाद से लापता मोहम्मद साजिद (बड़ा) के बारे में इससे पहले कम से कम तीन बार खुफिया एजेंसियों और विश्वस्त सूत्रों से हवाल...

मसीहुद्दीन संजरी
2017-08-16 17:36:32
साहेब के लोग मीडिया और टेरर पॉलिटिक्स
साहेब के लोग, मीडिया और टेरर पॉलिटिक्स

याद कीजिए राजधानी में सैफुल्लाह फर्जी एनकाउंटर के वीडियो गिरफ्तारी और एक बेबस बाप से उसके बेटे को जबरन आतंकी कहलवाया जा रहा था मोदी जी सोमनाथ के ...

अतिथि लेखक
2017-08-16 17:16:44
क्रांति और सहपराधिता  जब भारत छोड़ो आंदोलन चल रहा था तो श्यामा प्रसाद मुखर्जी कहाँ थे
क्रांति और सहपराधिता : जब भारत छोड़ो आंदोलन चल रहा था तो श्यामा प्रसाद मुखर्जी कहाँ थे ?

अंग्रेज सरकार के प्रति लोगों का गुस्सा और नफरत 1942 में अपने चरम पर था. तब अभी सत्ता में बैठे हिंदुत्ववादी राष्ट्रवादी कहां थे?

अतिथि लेखक
2017-08-16 08:56:11
जानिए उन चुनिन्दा क्रांतिकारियों को जिन्होंने देश के लिए खुद को कुर्बान कर दिया
जानिए उन चुनिन्दा क्रांतिकारियों को जिन्होंने देश के लिए खुद को कुर्बान कर दिया

ब्रितानी हुकूमत के खिलाफ जंग-ए-आजादी का ज़िक्र आते ही कई नाम और चेहरे याद आ जाते हैं, जिन्होंने लंबी लड़ाई और तमाम जुल्मों-सितम सहकर देश को अंग्र...

राजीव रंजन श्रीवास्तव
2017-08-15 16:58:39
किसी कौम व दूसरे देश से नफरत देशभक्ति नहीं है
किसी कौम व दूसरे देश से नफरत देशभक्ति नहीं है

सेना और राष्ट्रध्वज को लेकर हमारे मन में जो देशभक्ति भर दी गयी है आज वो मानवता से कहीं ऊपर चली गयी है। तभी तो हम खून खराबे और टुकड़े करने की बात अ...

अतिथि लेखक
2017-08-15 16:16:52
मोदीजी आपका हश्र भी आपातकालीन इंदिरा जैसा होगा
मोदीजी, आपका हश्र भी आपातकालीन इंदिरा जैसा होगा!!

लालक़िले की प्राचीर से आज मोदीजी का भाषण सुनकर यही लगा चलो देश निश्चिंत हुआ देश में मोदी शासन में बहुत तरक्की हुई है। देश बुलंदियों को छू रहा है।...

जगदीश्वर चतुर्वेदी
2017-08-15 10:55:31
क्या मृगतृष्णा बन गया है धर्मनिरपेक्ष गठबंधन
क्या मृगतृष्णा बन गया है धर्मनिरपेक्ष गठबंधन?

नीतीश के विश्वासघात, या दूसरे शब्दों में उनके अपना सही रंग दिखाने के बाद, माकपा के मुखपत्र, जिसके संपादक प्रकाश कारत हैं, में एक लेख प्रकाशित हुआ...

राम पुनियानी
2017-08-13 22:10:37
यह योगी सरकार द्वारा की गई संगठित हत्या है
यह योगी सरकार द्वारा की गई संगठित हत्या है

हमारा सवाल है कि क्या योगी के जरिये उत्तर प्रदेश में हिटलर के आश्विच की तरह के मृत्यु शिविरों में सेना, पुलिस और पूरी नौकरशाही को लगा कर सामूहिक ...

अतिथि लेखक
2017-08-13 19:17:50
मोदी - योगी के वश की बात नहीं है प्रशासन
मोदी - योगी के वश की बात नहीं है प्रशासन

जनतंत्र में प्रशासन खुद में एक विशेषज्ञता का काम है। यह कोरे लफ्फाजों के बस का नहीं होता है।

अतिथि लेखक
2017-08-13 19:00:26
मुमकिन तो यह भी है कि किसी सुबह चार गुंडे वंदेमातरम चिल्लाते हुए कफ़ील अहमद को मार डालें
मुमकिन तो यह भी है कि किसी सुबह चार गुंडे वंदेमातरम चिल्लाते हुए कफ़ील अहमद को मार डालें

वे बच्चे इसलिए मरे क्योंकि ये देश उन्हें डिज़र्व नहीं करता। जैसे हम ये देश डिज़र्व नहीं करते - नहीं हैं हम इसके काबिल। और सच कहूं तो जैसे हम हैं - ...

राजीव मित्तल
2017-08-13 18:01:47
तुम्हारे हिस्से की ऑक्सीजन रामराज की बदइंतजामी के हत्थे चढ़ गयी क्योंकि देश ठेके पर है
तुम्हारे हिस्से की ऑक्सीजन रामराज की बदइंतजामी के हत्थे चढ़ गयी क्योंकि देश ठेके पर है

हमने पैदा होते ही तुम्हारी मौत की खबर पढ़ी फेसबुक पर लिख दिया दुखद और देखने लगे टीवी पर हिंद महासागर में रामसेतु के अन्वेषण की खबर और...

अतिथि लेखक
2017-08-13 10:03:43
पर आपको तो हिन्दू राष्ट्र चाहिए श्मशान-कब्रिस्तान चाहिए
पर आपको तो हिन्दू राष्ट्र चाहिए, श्मशान-कब्रिस्तान चाहिए

जो समाज का उच्च तबका है उसे सोचना होगा कि पंडित प्रिंस तिवारी जैसों का जो हत्यारा जेहन किसी रागिनी दुबे की निर्मम हत्या करता है, आखिर उसमें इतनी ...

अतिथि लेखक
2017-08-12 19:30:12
गोरखपुर मेडिकल कॉलेज  माफ़ कीजिए हत्याएं अभी और होंगी
गोरखपुर मेडिकल कॉलेज : माफ़ कीजिए हत्याएं अभी और होंगी........

राज्य बेकाबू हो गया है और हम लगाम लगाने के लायक ख़ुद को साबित नहीं कर पा रहे. वाकई समाज सिर्फ शिकायती रह जाए तो बड़ी-बड़ी समस्याएं उसका पीछा नहीं छोड़ती.

अतिथि लेखक
2017-08-12 19:12:52
सीपीआईएम पर बहुमतवादियों का यह कैसा मकड़जाल है
सीपीआई(एम) पर बहुमतवादियों का यह कैसा मकड़जाल है !

इन बहुमतवादियों की जकड़बंदी ने CPIM को किस प्रकार हंसी का पात्र बना कर छोड़ दिया है, यह पिछले सभी अनुभवों के बाद एक बार फिर कामरेड सीताराम येचुरी...

अतिथि लेखक
2017-08-11 19:28:06
सदन में सांसद विधायकों की आदतन अनुपस्थिति मतदाताओं के साथ धोखा
सदन में सांसद, विधायकों की आदतन अनुपस्थिति मतदाताओं के साथ धोखा

अगर आपका वकील कोर्ट में तारीख पर हाजिर ना हो तो आपको कैसा लगेगा? आप उसे हटायेगें या नहीं? इसलिए राईट टू रिकॉल मतदाताओं को मिलना चाहिए

अतिथि लेखक
2017-08-11 18:58:42
वारेन हेस्टिंग्स का सांड  राष्ट्रपति की सुरक्षा में केवल राजपूत जाट और सिख मनुस्मृति संविधान कीओर पहला कदम
वारेन हेस्टिंग्स का सांड : राष्ट्रपति की सुरक्षा में केवल राजपूत, जाट और सिख.. मनुस्मृति संविधान कीओर पहला कदम

जी हां, अब दलित राष्ट्रपति की सुरक्षा में, अंग्रजों की भाषा में, केवल लड़ाकू जातियों के जवानों -- राजपूत, जाट और सिख ही भर्ती किए जाएंगे..

राजीव मित्तल
2017-08-11 18:17:22
चूरन पालिटिक्स करती है बीजेपी ख़ुफ़िया और सुरक्षा एजेंसियों के साथ
चूरन पालिटिक्स करती है बीजेपी, ख़ुफ़िया और सुरक्षा एजेंसियों के साथ

#चूरन_पालिटिक्स : 'चूरन' ही था यूपी विधानसभा में मिला पदार्थ! योगी जी चूरन पालिटिक्स पर आप कुछ नहीं बोलेंगे क्या????

अतिथि लेखक
2017-08-11 16:02:30