Home » समाचार » दुनिया » टाइप 1 डायबिटीज क्या है | What is type 1 diabetes?
Diabetes Care

टाइप 1 डायबिटीज क्या है | What is type 1 diabetes?

टाइप 1 डायबिटीज क्या है What is type 1 diabetes?

मधुमेह यानी डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है जो तब होती है जब आपका रक्त ग्लूकोज, जिसे रक्त शर्करा भी कहा जाता है, बहुत अधिक हो जाता है। रक्त ग्लूकोज आपकी ऊर्जा का मुख्य स्रोत है और यह आपके द्वारा खाए गए भोजन से आता है। इंसुलिन, एक हार्मोन होता है जो अग्न्याशय द्वारा बनाया जाता है। इंसुलिन भोजन से ग्लूकोज को आपकी कोशिकाओं में ऊर्जा के लिए उपयोग करने में मदद करता है। कभी-कभी आपका शरीर पर्याप्त इंसुलिन नहीं बनाता है – या अच्छी तरह से इंसुलिन का उपयोग नहीं करता है, तब ग्लूकोज आपके रक्त में रहता है और आपकी कोशिकाओं तक नहीं पहुंचता है। एक अन्य हार्मोन, ग्लूकागन, (hormone, glucagon,) रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करने के लिए इंसुलिन के साथ काम करता है।

टाइप 1 मधुमेह वाले अधिकांश लोगों में, शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली, जो आम तौर पर संक्रमण से लड़ती है, अग्न्याशय में उन कोशिकाओं पर हमला करके उनको नष्ट करती है जो इंसुलिन बनाती हैं। इंसुलिन के बिना, ग्लूकोज आपकी कोशिकाओं में नहीं जा सकता है और आपकी रक्त शर्करा सामान्य से ऊपर उठ जाती है। टाइप 1 मधुमेह वाले लोगों को जीवित रहने के लिए हर दिन इंसुलिन लेने की आवश्यकता होती है।

टाइप 1 डायबिटीज विकसित होने की अधिक आशंका किसे है? Who is more likely to develop type 1 diabetes?

टाइप 1 मधुमेह आम तौर पर बच्चों और युवा वयस्कों में होता है, हालांकि यह किसी भी उम्र में हो सकता है। यदि आपके माता-पिता अथवा सहोदर को डाइबिटीज है तो आपमें भी टाइप 1 डायबिटीज विकसित होने का खतरा बढ़ जाता है।

टाइप 1 डायबिटीज के लक्षण क्या हैं? What are the symptoms of type 1 diabetes?

टाइप 1 डायबिटीज के लक्षण गंभीर होते हैं और आमतौर पर कुछ दिनों से लेकर कुछ हफ्तों अचानक प्रकट हो सकते हैं। लक्षण में शामिल हो सकते हैं-

  • प्यास और पेशाब का बढ़ना
  • भूख में वृद्धि
  • धुंधली दृष्टि
  • थकान
  • अस्पष्टीकृत वजन घटना (unexplained weight loss)

कभी-कभी टाइप 1 डायबिटीज के पहले लक्षण, जीवन के लिए खतरनाक स्थिति जिसे डायबिटिक केटोएसिडोसिस (डीकेए)- diabetic ketoacidosis (DKA) कहा जाता है, के संकेतक होते हैं।

डीकेए के कुछ लक्षणों में शामिल हैं

  • सांस जिसमें बदबू आती है
  • सूखी या दमकती त्वचा
  • उलटी अथवा मितली
  • पेट दर्द
  • साँस लेने में कठिनाई
  • ध्यान देने में परेशानी या उलझन महसूस करना

डीकेए गंभीर और खतरनाक है। यदि आपमें या आपके बच्चे में डीकेए के लक्षण हैं, तो तुरंत अपने स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से संपर्क करें, या निकटतम अस्पताल के आपातकालीन कक्ष में जाएं।

टाइप 1 डायबिटीज किन कारणों से होता है? What causes type 1 diabetes?

विशेषज्ञों का मानना है कि टाइप 1 डायबिटीज जीन और वातावरण में उपस्थित कारकों, जैसे वायरस, जो रोग को ट्रिगर कर सकते हैं, के कारण होता है। शोधकर्ता अध्ययन के माध्यम से टाइप 1 मधुमेह के कारणों को इंगित करने के लिए काम कर रहे हैं।

स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर टाइप 1 मधुमेह का निदान कैसे करते हैं? How do healthcare professionals diagnose type 1 diabetes?

स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर आमतौर पर टाइप 1 मधुमेह के लिए लोगों का परीक्षण करते हैं अगर उनके स्पष्ट-कट मधुमेह के लक्षण (clear-cut diabetes symptoms) हैं। स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर अक्सर टाइप 1 मधुमेह का निदान करने के लिए यादृच्छिक प्लाज्मा ग्लूकोज (आरपीजी)- random plasma glucose (RPG) test परीक्षण का उपयोग करते हैं। यह रक्त परीक्षण एक समय में आपके रक्त शर्करा के स्तर को मापता है। कभी-कभी स्वास्थ्य पेशेवर ए 1 सी रक्त परीक्षण (A1C blood test ) का भी उपयोग करते हैं ताकि यह पता लगाया जा सके कि किसी को उच्च रक्त शर्करा (high blood glucose) कितने समय से है।

भले ही ये परीक्षण इस बात की पुष्टि कर सकते हैं कि आपको मधुमेह है, परन्तु वे यह नहीं पहचान सकते कि आपको पास किस प्रकार का मधुमेह है। डायबिटीज का उपचार इस बात पर निर्भर करता है कि आपको कैसा मधुमेह है। इसलिए यह जानना महत्वपूर्ण होता है कि आपको टाइप 1 मधुमेह है अथवा टाइप 2 मधुमेह।

यह पता लगाने के लिए कि क्या आपका मधुमेह टाइप 1 है, आपके स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर आपके रक्त को कुछ ऑटोएंटिबॉडी के लिए परीक्षण कर सकते हैं। ऑटोएंटिबॉडी ऐसे एंटीबॉडी होते हैं जो गलती से आपके स्वस्थ ऊतकों और कोशिकाओं पर हमला करते हैं। कुछ प्रकार के ऑटोएंटिबॉडी की उपस्थिति टाइप 1 में आम होती है लेकिन टाइप 2 मधुमेह में नहीं।

क्योंकि टाइप 1 डायबिटीज आनुवंशिक हो सकता है, इसलिए आपके स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर आपके परिवार के सदस्यों का भी ऑटोएंटिबॉडी का परीक्षण कर सकते हैं।

टाइप 1 डायबिटीज़ ट्रायलनेट (Type 1 diabetes TrialNet), एक अंतरराष्ट्रीय शोध नेटवर्क है, जो रोग से पीड़ित लोगों के परिवार के सदस्यों को ऑटोएंटिबॉडी परीक्षण प्रदान करता है। मधुमेह के लक्षणों के बिना भी ऑटोएंटिबॉडी की उपस्थिति का मतलब है कि  परिवार के सदस्यों में टाइप 1 मधुमेह विकसित होने की अधिक आशंका है। यदि आपके किसी भाई या बहन, बच्चे को या माता-पिता को टाइप 1 मधुमेह है, तो आपको एक ऑटोएन्टीबॉडी परीक्षण करवाना चाहिए। 20 वर्ष या उससे कम आयु के लोग जिनके चचेरे भाई-बहनों, चाचा-चाची, भतीजा-भतीजी या दादा-दादी को टाइप 1 डायबिटीज है, उन्हें भी ऑटोएन्टीबॉडी परीक्षण करवाना चाहिए।

टाइप 1 मधुमेह के इलाज के लिए किन दवाओं की आवश्यकता है? What medicines do I need to treat my type 1 diabetes?

यदि आपको टाइप 1 मधुमेह है, तो आपको इंसुलिन लेना चाहिए क्योंकि आपका शरीर अब इस हार्मोन को नहीं बनाता है। विभिन्न प्रकार के इंसुलिन अलग-अलग गति से काम करना शुरू करते हैं, और प्रत्येक के प्रभाव अलग-अलग अवधि के होते हैं।

आपको एक से अधिक प्रकारों का उपयोग करने की आवश्यकता हो सकती है। आप कई तरीकों से इंसुलिन ले सकते हैं। सामान्य विकल्पों में एक सुई और सिरिंज, इंसुलिन पेन, या इंसुलिन पंप शामिल हैं। कुछ लोग जिन्हें अकेले इंसुलिन के साथ अपने रक्त शर्करा के लक्ष्य तक पहुंचने में परेशानी होती है, उन्हें एक और प्रकार की मधुमेह दवा लेने की आवश्यकता हो सकती है जो इंसुलिन के साथ काम करती है, जैसे कि प्राम्लिनटाइड (pramlintide)। इंजेक्शन द्वारा दिया जाने वाला प्राम्लिंटाइड खाने के बाद रक्त शर्करा के स्तर को बहुत अधिक जाने से रोकने में मदद करता है। हालाँकि, टाइप 1 मधुमेह वाले कुछ लोग ही प्राम्लिंटाइड लेते हैं।

एक अन्य मधुमेह दवा, मेटफॉर्मिन (diabetes medicine, metformin,), आपको इंसुलिन की मात्रा को कम करने में मदद कर सकती है, लेकिन इसकी पुष्टि करने के लिए अधिक अध्ययन की आवश्यकता है। शोधकर्ता अन्य मधुमेह की गोलियों का भी अध्ययन कर रहे हैं जो टाइप 1 मधुमेह वाले लोग इंसुलिन के साथ ले सकते हैं।

यदि आप इंसुलिन लेते हैं और यह आपके भोजन या शारीरिक गतिविधि के साथ आपकी खुराक से मेल नहीं खाता है तो हाइपोग्लाइसीमिया या निम्न रक्त शर्करा (Hypoglycemia, or low blood sugar) हो सकता है। गंभीर हाइपोग्लाइसीमिया खतरनाक हो सकता है और तुरंत इसका इलाज किया जाना चाहिए।

टाइप 1 मधुमेह का प्रबंधन कैसे करें ? How to manage type 1 diabetes?

इंसुलिन और आपके द्वारा उपयोग की जाने वाली किसी भी अन्य दवाओं के साथ, आप प्रत्येक दिन अपनी देखभाल करके अपने मधुमेह का प्रबंधन कर सकते हैं।

अपने मधुमेह भोजन योजना के बाद, शारीरिक रूप से सक्रिय होकर (being physically active) और अपने रक्त शर्करा की जांच करना (checking your blood glucose) अक्सर कुछ ऐसे तरीके हैं जिनसे आप अपना ख्याल रख सकते हैं।

यदि आपको मधुमेह है और आप गर्भधारण की योजना बना रही हैं, तो गर्भवती होने से पहले अपने रक्त शर्करा के स्तर को अपने लक्ष्य सीमा में लाने का प्रयास करें।

टाइप 1 डायबिटीज वाले लोगों में कौन सी स्वास्थ्य समस्याएं विकसित हो सकती हैं? What health problems can people with type 1 diabetes develop?

समय के साथ, उच्च रक्त शर्करा से निम्न समस्याएं हो सकती हैं –

  • दिल की बीमारी heart disease
  • आघात stroke
  • गुर्दे की बीमारी kidney disease
  • आँखों की समस्या eye problems
  • दंत रोग dental disease
  • नस की क्षति nerve damage
  • पैरों की समस्या foot problems
  • डिप्रेशन depression
  • स्लीप एप्निया sleep apnea

यदि आपको टाइप 1 मधुमेह है, तो आप अपने रक्त शर्करा, रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल का प्रबंधन करके और अपनी स्वयं की देखभाल योजना का पालन करके मधुमेह की स्वास्थ्य समस्याओं को रोकने या देरी करने में मदद कर सकते हैं।

नोट – यह समाचार किसी भी हालत में चिकित्सकीय परामर्श नहीं है। यह समाचारों में उपलब्ध सामग्री के अध्ययन के आधार पर जागरूकता के उद्देश्य से तैयार की गई अव्यावसायिक रिपोर्ट मात्र है। आप इस समाचार के आधार पर कोई निर्णय कतई नहीं ले सकते। स्वयं डॉक्टर न बनें किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लें।)

जानकारी का स्रोत – The National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases (संबद्ध – U.S. Department of Health and Human Services

हमारे बारे में hastakshep

Check Also

Shailendra Dubey, Chairman - All India Power Engineers Federation

विद्युत् वितरण कम्पनियाँ लॉक डाउन में निजी क्षेत्र के बिजली घरों को फिक्स चार्जेस देना बंद करें

DISCOMS SHOULD INVOKE FORCE MAJEURE CLAUSE TOSAVE FIX CHARGES BEING PAID TO PRIVATE GENERATORS IN …

Leave a Reply